# 26 नवंबर 2018: ‘राष्ट्रीय फाइनल’- हिंदी विज्ञान प्रश्न मंच 2018 29-30 दिसंबर 2018 ; स्वर्ण जयंती समारोह : अंतिम तिथि : 31 दिसंबर , 2018 - डॉ. होमी भाभा हिंदी विज्ञान लेख प्रतियोगिता 2018 राष्ट्रीय विज्ञान संगोष्ठी झांसी के लिए पंजीकरण की तारीख 25 जनवरी, 2019 तक बढ़ा दी गई है। # मार्च 2019 ( प्रथमार्द्ध): राष्ट्रीय विज्ञान संगोष्ठी 2019: आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय, पटना # मार्च 2019 (उत्तरार्द्ध) : मानव स्वास्थ्य संगोष्ठी
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
  • Hindi Vigyan Sahitya Parishad
1 2 3 4 5 6 7 8 9

परिषद्‌ समाचार

सदस्य लॉग इन



Email :
Password :

हिंदी विज्ञान साहित्य परिषद्

महावीर प्रसाद द्विवेदी ने कहा था की " ज्ञान, विज्ञान, धर्म एवं राजनीति की भाषा सदैव लोकभाषा ही होनी चाहिए। " इसी मूल विचारधारा को लेकर विज्ञान और तकनीकी के प्रमुख केंद्र भाभा परमाणु अनुसन्धान केंद्र में सन 1968 में हिन्दी विज्ञान साहित्य परिषद् की स्थापना की गई। परिषद्  के गठन की संकल्पना, हिन्दी में वैज्ञानिक साहित्य का सृजन तथा प्रचार एवं प्रसार हो ताकि वैज्ञानिक समुदाय द्वारा अर्जित ज्ञान को जन-जन तक पहुँचाया सके। इसी उद्देश्य की प्राप्ति हेतु केंद्र के वैज्ञानिकों / इंजीनयरों ने, अपने वैज्ञानिक कार्यों का निर्वहन करते हुए, इस जबावदेही को एक अनुष्ठान के रूप में स्वीकार किया।


हिन्दी विज्ञान साहित्य परिषद्‌ के उद्देश्य

1. हिंदी में वैज्ञानिक साहित्य का लेखन,प्रचारएवं प्रसार
2. वैज्ञानिक एवं तकनीकी शब्दावलियों का सृजन एवं प्रकाशन
3. महत्वपूर्ण वैज्ञानिक साहित्य को अर्जित कर उसका हिंदी अनुवाद
4. समान उद्देश्य एवं विचारधारा वाली अन्य संस्थाओं के साथ मिलकर कार्य करना
5. केंद्र एवं राज्य सरकारों को हिंदी में वैज्ञानिक पुस्तकें प्रकाशित करने में सहायता प्रदान करना
6. विभिन्न वैज्ञानिक एवं तकनीकी विषयों पर वार्ता, संगोष्ठी का आयोजन
7. विभिन्न शैक्षणिक पुस्तकालयों को हिंदी में विज्ञान की पुस्तकें प्रदान किना
8. वैज्ञानिक पत्रिका / वैज्ञानिक साहित्य का संवर्धन एवं प्रकाशन करना
9. परिषद की क्रिया कलापों की जानकारी हेतु सामयिक पत्र / पत्रिका का प्रकाशन